Heatwave in UP: 

Heatwave in UP: मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि बिजली की अनावश्यक कटौती न करें और फाल्ट को तुरंत सही कराएं।

Uttar Pradesh

Heatwave in UP: प्रदेश में जारी भीषण गर्मी को देखते हुए, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अफसरों को निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि हीट वेव से बचाव के लिए हर स्तर पर कड़े प्रबंध बनाए जाएं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यूपी में भारी गर्मी और हीटवेव को देखते हुए अधिकारियों को निर्देश दिए और कहा कि किसी भी गांव या शहर में अनावश्यक बिजली कटौती न की जाए और फाल्ट आने पर तत्काल मरम्मत की जाए। उनका कहना था कि पिछले कुछ दिनों से राज्य में भारी गर्मी-लू का प्रकोप देखा गया है। तापमान बढ़ा हुआ है। ऐसी परिस्थितियों में आम जनजीवन और पशुधन की सुरक्षा के लिए हर स्तर पर कड़े प्रबंध लागू किए जाएं।

तेज गर्मी और लू का मौसम चल रहा है, उन्होंने कहा। ऐसे में, शहर या गांव में बिजली की अनावश्यक कटौती नहीं होनी चाहिए। जरूरतमंद बिजली खरीदने का प्रबंध करें। तत्काल ट्रांसफार्मर जलने, तार गिरने और ट्रिपिंग की समस्याओं का समाधान करें। यदि कोई विवाद होता है तो वरिष्ठ अधिकारी तत्काल मौके पर पहुंचेंगे. अधिकारी फोन को अटेंड करें।

शहरों और गांवों में सार्वजनिक स्थानों पर प्याऊ रखवाए जाएं। बाजार मार्गों पर जगह-जगह पेयजल की व्यवस्था होनी चाहिए। सामाजिक और धार्मिक संस्थाओं को भी इस काम में सहयोग देना चाहिए। सड़कों पर नियमित रूप से पानी डाला जाए। पानी की कमी से अत्यधिक प्रभावित क्षेत्रों में टैंकरों के माध्यम से आपूर्ति सुनिश्चित कराई जाए। पेयजल कहीं भी नहीं है।

उनका कहना था कि स्वच्छता पर विशेष ध्यान देना चाहिए। अयोध्या, काशी, मथुरा आदि सभी धार्मिक स्थानों पर विशेष ध्यान देना चाहिए। बड़ा मंगल के दृष्टिगत लखनऊ में साफ-सफाई, ट्रैफिक व्यवस्था और अन्य सुविधाओं की सुचारू व्यवस्था सुनिश्चित करें।

Heatwave in UP: हीट-वेव एक्शन प्लान को सफलतापूर्वक लागू करें

मुख्यमंत्री योगी ने भीषण गर्मी के बीच पशुधन की सुरक्षा पर भी जोर दिया। सभी प्राणी उद्यानों और अभयारण्यों में हीट-वेव एक्शन प्लान को लागू करें। पशुपालक कृषकों को हीट वेव में सुरक्षित रखने के पुख्ता इंतजाम होने चाहिए। गोशालाओं में उचित पानी की व्यवस्था और पशुधन की हरे चारे-चोकर होनी चाहिए। पशुओं को बरसात से पहले वैक्सीनाइज करें।

हीटवेव (लू) के लक्षणों और बचाव के बारे में लोगों को जागरूक करें। बीमार होने पर हर व्यक्ति को तुरंत चिकित्सा उपलब्ध कराएं। हीट-वेव से प्रभावित लोगों को अस्पतालों और मेडिकल कॉलेजों में तुरंत इलाज दिया जाए।

Heatwave in UP: शहरों में पेयजल की आपूर्ति निर्धारित रोस्टर के अनुरूप होनी चाहिए, सभी हैंडपम्प चालू रहें और ग्रामीण पाइप पेयजल योजनाओं का प्रभावी ढंग से कार्यान्वयन होना चाहिए। गोवंशों, श्वानों और अन्य जानवरों के लिए सार्वजनिक स्थानों पर पानी और छाया की व्यवस्था की जानी चाहिए। पक्षियों को पानी और दाना देने के लिए आम लोगों को जागरूक करें।

Heatwave in UP: मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि बिजली की अनावश्यक कटौती न करें और फाल्ट को तुरंत सही कराएं।

UP में बिजली कटौती से लोग परेशान, विपक्ष ने साथा Yogi सरकार पर निशाना