Bharatpur News:

Bharatpur News: कुलदीप गैंग के सदस्यों की हत्या की साजिश, पांच आरोपी गिरफ्तार

Rajasthan

Bharatpur News: अजमेर हाई सिक्योरिटी जेल में बंद बदमाश एक बार फिर गैंगवार की योजना बना रहे थे। भरतपुर में कुलदीप गैंग के सदस्यों की हत्या की साजिश कृपाल जघीना गैंग ने की थी। इनपुट मिलते ही पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया।

भरतपुर में कृपाल जघीना गैंग के सदस्य एक बार फिर से गैंगवार करने की फिराक में थे। उससे पहले पांच आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। कुलदीप जघीना गैंग के बदमाश कृपाल जघीना गैंग के तीन लोगों को निशाना बना रहे थे। वारदात का मास्टर माइंड कृपाल का भतीजा पंकज अजमेर जेल से ही तीन लोगों की रेकी करवा रहा था। इस गैंगवार की योजना में अभी तक ग्यारह आरोपियों के नाम सामने आए हैं, पांच गिरफ्तार हो चुके हैं। अजमेर हाईसिक्योरिटी जेल से पहली बार मोबाइल फोन और सिम बरामद किए गए हैं।

Bharatpur News: गैंगवार की योजना अजमेर हाईसिक्योरिटी जेल से चल रही थी

भरतपुर साइबर सेल ने एसपी मृदुल कच्छावा को बताया कि अजमेर हाईसिक्योरिटी जेल में बंद कृपाल जघीना गैंग के सदस्य भरतपुर में गैंगवार की योजना बना रहे हैं। जयपुर ATS से कुछ जानकारी मिली। इसके बाद कोतवाली थाने में शिकायत दर्ज की गई। जाँच की गई थी। इस मामले में अभी तक पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है। मुख्य आरोपी गैंगवार की योजना बनाने वाला पंकज जघीना, लोकेंद्र और मोबाइल देने वाला आरोपी जहांगीर उर्फ डोरेमोन, दो अन्य आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। अब और नाम सामने आ रहे हैं। इस मामले को पुलिस अभी जांच कर रही है।

अब भी आरोपी हैं। जो अजमेर जेल में हैं उन्हें भी पूछा जाएगा। Pankaj को 13 दिन की पुलिस रिमांड पर रखा गया है। पंकज अभी भी पुलिस रिमांड पर रहेगा।

Bharatpur News: अजमेर जेल से पहली बार मोबाइल और सिम बरामद

अजमेर हाई सिक्योरिटी जेल से पहली बार पंकज और जहांगीर की निशानदेही पर मोबाइल फोन और सिम बरामद किए गए हैं। हथियारों की रेकी और व्यवस्था का आरोपी रोहित हथैनी अभी भी फरार है। उसे खोजा जा रहा है। पुलिस इनके अलावा रेकी के अन्य बदमाशों पर निगरानी रखती है। उनकी खोज जारी है। पूछताछ में कुछ अतिरिक्त स्थानीय व्यक्तियों के नाम सामने आए हैं। जो दोनों गैंगों में शामिल हैं। इस घटना को कृपाल जघीना की गैंग में अपना प्रभाव बनाए रखने के लिए अंजाम देना चाहती थी।

Bharatpur News: दोनों में पहले भी गैंगवार हुआ है

कुलदीप ने 4 सितंबर 2022 को रेलवे सलाहकार समिति सदस्य कृपाल सिंह जघीना की हत्या अपनी गैंग के साथ की थी। 12 जुलाई 2023 को भरतपुर के अमोली टोल प्लाजा पर कुलदीप जघीना की कृपाल जघीना की गैंग ने अंधाधुंध फायरिंग कर हत्या कर दी। तब से दोनों गैंगों के अपराधी जेल में हैं। पंकज जघीना, कृपाल जघीना का भतीजा, अजमेर जेल में है। वह अपने सहयोगियों के साथ मिलकर कुलदीप गैंग के सदस्यों को मार डालने की साजिश कर रहा था। पंकज जेल से ही लोगों से संपर्क कर रहा था और कुलदीप के साथियों की रेकी कर रहा था।

Bharatpur News: कुलदीप गैंग के सदस्यों की हत्या की साजिश, पांच आरोपी गिरफ्तार

Bharatpur Shootout: Kuldeep Jaghina Murder में आया बड़ा अपडेट ! Kripal Jaghina Murder Case |Rajasthan