Fatehpur:

Fatehpur: फतेहपुर डीपीओ निलंबित, महिला कर्मचारियों के शोषण के कई गंभीर आरोपों के साथ कई आरोप

Uttar Pradesh

Fatehpur: फतेहपुर के पूर्व डीपीओ राजीव कुमार सिंह पर आरोप लगाया गया है कि वे अपने अधीनस्थों से धन उगाही करते थे, भ्रष्टाचार को बढ़ावा देते थे, अनुशासनहीनता करते थे, अधीनस्थ महिला कर्मचारियों का मानसिक और शारीरिक शोषण करते थे और विभागीय कार्यों में दिलचस्पी नहीं दिखाते थे।

Fatehpur: विभागीय कार्यों में रुचि नहीं लेने के आरोप

उत्तर प्रदेश सरकार ने फतेहपुर जिला कार्यक्रम अधिकारी (डीपीओ) राजीव कुमार सिंह को पद से हटा दिया है। राजीव कुमार सिंह, जो फिलहाल सोनभद्र में तैनात हैं, पर जिलों में तैनाती के दौरान अपने अधीनस्थों से धन उगाही करने, भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने, अधीनस्थ महिला कर्मचारियों का मानसिक और शारीरिक शोषण करने, अनुशासनहीनता और विभागीय कार्यों में रुचि नहीं लेने के आरोप लगाए गए हैं।

Fatehpur: प्रमुख सचिव बाल विकास एवं पुष्टाहार वीना कुमारी मीना ने राजीव कुमार सिंह को निलंबित करने और आरोप पत्र थमाने के साथ स्पष्टीकरण भी मांगा है। साथ ही, उनके खिलाफ विभागीय अनुशासनिक कार्रवाई शुरू हो गई है। बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार का वित्त निदेशक जांच अधिकारी बनाया गया है।

निलंबन आदेश के अनुसार, राजीव कुमार सिंह विभागीय योजनाओं के कार्यान्वयन में लापरवाही बरतने और शासन की मंशा के अनुरूप कार्य नहीं करने के आदी हैं। उनके पास अन्य विभागों के साथ समन्वय भी नहीं है। जिससे केवल बाल विकास ही नहीं, बल्कि अन्य क्षेत्रों, जैसे स्वास्थ्य, की प्रगति पर भी बुरा असर हो रहा है। वह उच्चाधिकारियों और जनप्रतिनिधियों की अवलेहना करते रहे हैं और मनमाने ढंग से काम करते रहे हैं।

Fatehpur: फतेहपुर डीपीओ निलंबित, महिला कर्मचारियों के शोषण के कई गंभीर आरोपों के साथ कई आरोप

तहसील कार्यलय फतेहपुर में अधिकारी ,कर्मचारी नही समय के पाबंद, लोग परेशान |