Khandwa:

Khandwa: खंडवा में अवैध कटाई, बिश्नोई गैंग का मिला हाथ, तीन गिरफ्तार

Madhya Pradesh

Khandwa: खंडवा के वनकर्मियों ने रास्ता रोकने के लिए फेंके जा रहे लकड़ी के लट्ठों से बचते हुए 30 किलोमीटर तक तस्करों का पीछा किया, अपनी जान की परवाह किए बगैर। दो गाड़ी में तीन लाख रुपये की लकड़ी पकड़ी गई है।


फिल्म पुष्पा आपको याद रखेगी। नायक ही अवैध लकड़ी काटता है। फिर वन अधिकारियों से भी भिड़ता है। खंडवा में भी इसी तरह का फिल्मी अंदाज दिखाई दिया। वन विभाग ने तीन लकड़ी तस्करों को धड़ल्ले से अवैध रूप से पेड़ काटते पाया है। साथ ही, वे तीन लाख रुपये की लकड़ी भी बरामद कर चुके हैं।

वन विभाग के अमले ने खंडवा जिले में लकड़ी की तस्करी करने वाली एक गैंग के सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया है। मुखबिर से सूचना मिलने पर वन विभाग की टीम ने घेराबंदी कर खोज की। वन विभाग की गाड़ियां और लकड़ी तस्कर की गाड़ियां आमने-सामने आ गईं। लकड़ी तस्करों ने फिल्मी ढंग से वन अमले की गाड़ियों पर लकड़ी के लट्ठों की बौछार शुरू की। खंडवा के बहादुर वनकर्मियों ने तस्करों की ओर से फेंके जा रहे लकड़ी के लट्ठों से बचते हुए ३० किलोमीटर तक पीछा किया, जान की परवाह किए बिना।

फिर तीन लाख रुपये की लकड़ी बरामद कर तीनों तस्करों को पकड़ लिया। खोज में भी तस्करों की गैंग के महत्वपूर्ण सुराग मिले हैं। अब खंडवा वन विभाग इन बातों पर काम कर रहा है।

Khandwa: तीन लाख की लकड़ी पकड़ी गई

खंडवा डीएफओ राकेश कुमार डामोर ने बताया कि हमें मुखबिर से सूचना मिली कि कुछ लोग अवैध रूप से जंगलों को काटने वाले हैं। हमारे एसडीओ और वन टीम को कार्रवाई करने का आदेश दिया गया था। पूरे जिले में बंद कर दिया गया था। रात्रि में हमने दो वाहन पकड़े हैं। तीन लोगों को भी गिरफ्तार किया गया है।

ग्राम पाडलिया माल से एक गाड़ी पकड़ी गई थी। हमने संदीप गौड़ और दिनेश छापा नामक दो अपराधियों को भी गिरफ्तार किया है। साथ ही, उनकी कार से करीब 1.6 घन मीटर लकड़ी पकड़ी गई है। 64,000 रुपये की कीमत है। ग्राम रांझनी से दूसरी कार पकड़ी गई है। इसमें लगभग ३.५ घन मीटर लकड़ी जब्त की गई है, जिसका मूल्य लगभग 1,85,000 रुपये है।

Khandwa: परीक्षण में बिश्नोई गैंग का हाथ पाया गया

डीएफओ डामोर ने कहा कि जांच में पता चला कि दोनों स्थानों से गिरफ्तार किए गए अपराधी एक ही गैंग से थे। पड़ताल में सामने आए नाम गोकुल बिश्नोई और भजनलाल बिश्नोई हैं, जो परमलाई के आसपास रहते हैं। यह भी कहा गया है कि उन्होंने अवैध लकड़ी का एक बड़ा भंडार रखा है। हमारी टीम भी इस पर काम कर रही है। हम जल्द ही एक बड़ी कार्रवाई करके मामले को उजागर करेंगे।

आरोपी वन अमले पर लकड़ी के लट्ठे फेक रहे थे।

खंडवा डीएफओ डामोर ने बताया कि हमारा स्टाफ पहले से लकड़ी की कटाई की जानकारी थी, इसलिए वे खोजने में लगा था। हमारे स्टाफ की गाड़ी अचानक लकड़ी तस्करों की गाड़ी के सामने आ गई। हमारी टीम उनकी कार का पीछा करती रही। तब लोग अपने वाहनों से रास्ते में लकड़ी के लट्ठे फेंकते हुए जाने लगे। ताकि हमारे वाहन रुक जाएं। उन लोगों ने इस दौरान गाड़ी को 25 से 30 किलोमीटर तक भगाया। हमारे कर्मचारियों ने लगातार उनकी गाड़ियों का पीछा किया।

अपराधियों को पकड़ने वाली गाडिय़ां भी जब्त की गईं। हमने इस मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। अभी रिमांड पर है। इसके बाद प्रकरण को वन अधिनियम के प्रावधानों के तहत पंजीबद्ध कर कोर्ट चालान बनाकर पेश किया जाएगा।

Khandwa: खंडवा में अवैध कटाई, बिश्नोई गैंग का मिला हाथ, तीन गिरफ्तार

Khandwa News : खंडवा के जंगलों में अवैध कटाई | 3 लकड़ी तस्कर गिरफ्तार