Lucknow News:

Lucknow News: दूसरे समुदाय के एक व्यक्ति से प्रेम करने पर हैवान ने बहन को जिंदा जला दिया।

Uttar Pradesh

Lucknow News: हरदोई के अतरौली में एक युवती के दूसरे समुदाय के एक व्यक्ति से प्रेम करने से बौखलाए उसके सगे भाइयों ने पहले उसका गला दबा दिया और फिर उसे जिंदा जला दिया।
युवती को दूसरे समुदाय के एक व्यक्ति से प्रेम करने पर उसके दो सगे भाइयों ने मार डाला। उसका गला पहले दबाया। वह बेहोश हो गई और उसे खर-पतवार से जला दिया। रविवार को हरदोई पुलिस ने दो सप्ताह की जांच के बाद युवती का अधजला शव बरामद किया। दोनों हत्यारोपी भाइयों को गिरफ्तार कर कारागार में डाला गया। वारदात में इस्तेमाल की गई ओमनी कार भी पुलिस ने बरामद कर ली है।

30 मई को हरदोई के अतरौली थाना क्षेत्र में पंवाया गहदो मार्ग पर एक युवती का अधजला शव सड़क किनारे मिला। पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की थी। शव को काकोरी के कायस्थाना मोहल्ला निवासी 18 वर्षीय संगीता सैनी उर्फ बिट्टी के रूप में पता चला। रविवार को हरदोई पुलिस ने वारदात की पुष्टि की। SP पूर्वी नृपेंद्र ने बताया कि संगीता का प्रेम प्रसंग स्थानीय रहीम से था।

परिजनों को पता था। 30 मई को दोनों भाई दुर्गेश सैनी और शंकर उर्फ रवि ने संगीता को बहुत मना करने के बावजूद उसे ओमनी कार से अतरौली ले गए। गाड़ी गहदो मार्ग पर खड़ी कर उसका गला दबाया। जब वह थक गई, उसे एक बड़ी पन्नी में लपेटा गया और सड़क किनारे उसके ऊपर पतवार रखा गया और पेट्रोल डालकर उसे आग लगा दी गई।

Lucknow News: मौसी के घर चले गए।

पुलिस के अनुसार, वारदात को बाकायदा साजिश रचकर अंजाम दिया गया था। 30 मई को दोनों भाइयों ने संगीता से बताया कि अतरौली में रहने वाली मौसी की हालत खराब है। वे देखने के लिए जाना चाहिए। ऐसे में वह राजी हो गई। ओमनी ने कार से तीनों घरों को छोड़ दिया। अतरौली क्षेत्र में कार रोकी गई। फिर दोनों कार की पिछली सीट पर अचानक चले गए। शकर ने संगीता को पकड़ लिया और दुर्गेश ने उसका गला दबा दिया।

Lucknow News: कार की दुर्घटना में मोबाइल बंद होने से शक बढ़ा

अतरौली इंस्पेक्टर दिलेश कुमार सिंह ने कहा कि सीसीटीवी फुटेज में ओमनी कार दिखाई दी। उसका नंबर पता चला। इससे संगीता का घर काकोरी के कायस्थाना क्षेत्र में पहुँचा। परिजनों को शक हुआ। जब पुलिस ने दुर्गेश और शंकर के मोबाइल फोन की कॉल डिटेल और अन्य विवरणों की जांच की, तो पता चला कि दोनों ने घटना वाले दिन से लगातार तीन दिनों तक अपने मोबाइल फोन नहीं चलाए। उन पर सीधा शक था। दोनों घटनाओं को सख्त पूछताछ के बाद स्वीकार कर लिया गया।

Lucknow News: संगीता दो महीने पहले प्रेमी के साथ चली गई थी

प्रेमी रहीम लगभग दो महीने पहले संगीता के साथ चला गया था। चार दिनों में पुलिस ने उसे खोज निकाला था और दोनों पक्षों ने चौकी में समझौता कर लिया था। संगीता को उसके परिजन लगातार रहीम से बात करने से मना कर रहे थे और उसे उससे दूर होने के लिए धमका रहे थे, लेकिन वह रहीम से शादी करने पर अड़ी रही। भाइयों ने इस पर फैसला किया कि उसे मार डालेंगे। पूछताछ में आरोपियों ने खुद यह कुबूल किया है।

मृत्यु की जानकारी होने पर भी परिवार चुप रहा

मां मिथिलेश, दोनों भाइयों दुर्गेश और शंकर, संगीता के साथ रहते थे। परिवार के चार अन्य भाई रोहन, गोविंद, सूरज और अतुल एक पुराने घर में रहते थे। जब संगीता घर नहीं पहुंची, तो सभी को पता चला कि उसकी हत्या कर दी गई है, लेकिन पूरा परिवार चुप रहा। मृतकों की भूमिका की जांच की जा रही है, बताते हैं अतरौली इंस्पेक्टर दिलेश कुमार सिंह। किसी अन्य व्यक्ति की संलिप्तता की पुष्टि होने पर भी कार्रवाई की जाएगी।

 Lucknow News: दूसरे समुदाय के एक व्यक्ति से प्रेम करने पर हैवान ने बहन को जिंदा जला दिया।

Deshhit Live: बंगाल में ‘चीरहरण’, कहां है ‘ममता’? | West Bengal | Mamata Banerjee | Breaking News|