UN: 

UN: United Nations ने गाजा में भारतीय सेना के पूर्व अधिकारी की हत्या पर दुख जताया, इस्राइल पर लगे आरोप

Videsh

UN: हक ने कहा कि घटना की जांच करने के लिए एक पैनल बनाया गया है। पहली जांच से पता चला कि यह इस्राइली सेना का हमला हो सकता है।

गाजा में भारतीय सेना के एक पूर्व अधिकारी की हत्या पर संयुक्त राष्ट्र ने दुख जताया और भारत से माफी मांगी। वास्तव में, सोमवार सुबह युद्धग्रस्त गाजा के राफा में भारतीय सेना के पूर्व अधिकारी एक गाड़ी में सफर कर रहे थे. उनकी गाड़ी पर पीछे से हमला हुआ, जिसमें एक पूर्व सैन्य अधिकारी की मौत हो गई। साल 2022 में राफा में मारे गए 46 वर्षीय कर्नल वैभव अनिल काले, जो संयुक्त राष्ट्र के डिपार्टमेंट ऑफ सेफ्टी एंड सिक्योरिटी में सुरक्षा समन्वय अधिकारी थे, ने स्वैच्छिक रूप से सेना से सेवानिवृत्ति ले ली।

UN: कर्नल वैभव अनिल काले ने 2022 में भारतीय सेना से रिटायरमेंट लिया था।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, 11 जम्मू एंड कश्मीर राइफल्स काले भारतीय सेना में हैं। यह यूएस से जुड़े पहले अंतरराष्ट्रीय कर्मचारी की मौत है, जो इसराइल हमास युद्ध शुरू होने के बाद से हुआ है। अमेरिका के डिपार्टमेंट ऑफ सेफ्टी एंड सिक्योरिटी में काम करने वाली जॉर्डन की एक महिला भी हमले में घायल हुई हैं। US स्टाफ यूएन का चिन्ह लगी गाड़ी से राफा के यूरोपीय अस्पताल जा रहा था, जब उनकी गाड़ी पर हमला हुआ।

UN: इस्राइली सेना पर हमला करने के दावे

इस्राइली सेना के टैंकों का अनुमान है कि यह हमला किया गया था। साथ ही, संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरस के उप-प्रवक्ता फरहान हक ने वैभव अनिल काले की मौत पर दुख जताया और भारत के योगदान की तारीफ की। हक ने कहा कि घटना की जांच करने के लिए एक पैनल बनाया गया है। पहली जांच से पता चला कि यह इस्राइली सेना का हमला हो सकता है।

यूएन से जुड़े 71 अंतरराष्ट्रीय कर्मचारी अभी गाजा में काम कर रहे हैं। हक ने कहा कि राफा में टैंक सिर्फ इस्राइली सेना के पास हैं और हमला टैंक से हुआ था। ऐसे में संयुक्त राष्ट्र के वाहन को इस्राइली सेना ने ही निशाना बनाया गया है। गाजा में अब तक यूएस के 190 से ज्यादा कर्मचारी मारे गए हैं, लेकिन विदेशी कर्मचारी की मौत का यह पहला मामला है।

विदेश मंत्रालय ने शोक व्यक्त किया

भारत ने भी कर्नल वैभव अनिल काले की मौत पर शोक व्यक्त किया है। भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा कि तेल अवीव और रामल्लाह में संयुक्त राष्ट्र में मौजूद मिशनों ने भी काले के पार्थिव शरीर को भारत लाने की कोशिश शुरू कर दी है। मंत्रालय ने कहा, ‘कर्नल वैभव अनिल काले की मौत से हम बेहद दुखी हैं। हम उनके परिजनों और परिवार के प्रति भावुक होते हैं।’

UN: United Nations ने गाजा में भारतीय सेना के पूर्व अधिकारी की हत्या पर दुख जताया, इस्राइल पर लगे आरोप

Israel-Hamas War: Gaza में UN के भारतीय कर्मचारी की हुई मौत,Indian Army के थे पूर्व जवान| #tv9d