Kanpur: 

Kanpur: दो भाई खेरेश्वर घाट पर फिर डूबे, छोटे भाई मर गया, बड़े भाई को ग्रामीणों ने बचाया, घर में कोहराम

Uttar Pradesh

Kanpur: युवक शिवराजपुर जिले के खेरेश्वर सरैया गंगा घाट पर सुबह स्नान करते समय डूब गया। ग्रामीणों ने वहीं बड़े भाई को बचाया।
युवक ने गुरुवार को कानपुर के बिल्हौर में खेरेश्वर सरैया गंगा घाट पर सुबह स्नान करते समय डूबकर मर गया। बड़े भाई को घाट पर मौजूद लोगों और स्थानीय गोताखोरों की मदद से बचाया गया। लेकिन छोटे भाई डूबकर मर गया।

सूचना मिलने पर पुलिस ने युवक को डूबे हुए शिवराजपुर सरकारी अस्पताल ले गया। डॉक्टरों ने उसे मर चुका बताया। उसे कानपुर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जिससे उसका परिवार संतुष्ट नहीं था। सुबह छह बजे मस्वानपुर कल्याणपुर से स्नान करने आए पांच मित्रों में दो सगे भाई थे।

छोटे भाई ने इसमें नहाते समय गहरे जल में गिरकर मर गया। सुबह छह बजे, शिवनगर मसवानपुर थाना रावतपुर निवासी प्रशांत तिवारी (20) पुत्र बृजकिशोर तिवारी, अपने बड़े भाई मुकुल तिवारी के साथ खेरेश्वर सरैया घाट पर स्नान करने आए. उनके साथ राजा बाबू, ऋषभ शर्मा और रोहित भी थे।

Kanpur: ग्रामीणों और गोताखोरों ने बड़े भाई को बचाया

प्रशांत तिवारी और उसका बड़ा भाई मुकुल तिवारी दोनों स्नान करते समय डूबने लगे। घाट पर मौजूद लोगों की मदद से मुकुल तिवारी बच गया, लेकिन उसका छोटा भाई प्रशांत तिवारी डूब गया। गोताखोरों ने उसे आसानी से निकाला, लेकिन तब तक वह मर चुका था।

Kanpur: खेरेश्वर सरैया घाट का उद्घाटन स्थान

इस घाट पर स्नान करने आए 12 दिनों में पांच लोग डूब गए। 19 मार्च को रामनगर मन्धना निवासी मयंक तिवारी, 20 मार्च को जगनपुर रूरा निवासी रामजी पांडे और 24 मार्च को कस्बे के लक्ष्य बाजपेई उर्फ दीप और उसके साथी श्लोक अवस्थी डूबकर मर गए। इस तरह की घटनाओं के बावजूद स्नान करने वाले अनुयायी जागरूक नहीं हुए। गहरे जल में स्नान करने के लिए उत्सुक रहते हैं, अपनी जान जोखिम में डालकर।

Kanpur: दो भाई खेरेश्वर घाट पर फिर डूबे, छोटे भाई मर गया, बड़े भाई को ग्रामीणों ने बचाया, घर में कोहराम

कानपुर में खेरेश्वर घाट में गंगा नहाने गए तीन युवक डूबे, एक को बचाया